अब हम भी हैं साथ

Categories: , ,

पहली पोस्ट लिखते हुए मन में जितना उत्साह है ,भीतर कहीं उतना ही भय भी है । हम जानते हैं ब्लॉग की दुनिया बहुत विराट है । ये भी जानते हैं की यहाँ विराट व्यक्तित्वों की कमी नही है । फ़िर भी बहुत समझ बूझ कर आ गए हैं आप सबके साथ चलने । मंजिल का पता नही है लेकिन रस्ते के पडाव तय कर लिए हैं । अपनी लघुता का एहसास है हमें ,ये भी जानते हैं की ब्लॉग के इस समंदर में एक बूँद भी नही हैं हम। पर युवा दिल है ,इसे कौन रोक पाया है अब तक , जो अब रुकने वाला है । फिलहाल ज्यादा कुछ कहना ठीक नही होगा क्योंकि हम जानते है हम नौसिखिए है । लेकिन थोड़ा बहुत तो तय कर लिया वो ये की यहाँ उल्टा सीधा कुछ नही होगा, न किसी से होड़ होगी । हम अपना रास्ता ख़ुद बनायेंगे

Spread The Love, Share Our Article

Related Posts

3 Response to अब हम भी हैं साथ

4:20 PM, February 12, 2009

thik hai chalega, narayan narayan [Reply]

5:01 PM, February 13, 2009

बधाई एवं शुभकामनाएं। आप समाज के ठहरे पानी में हलचल मचाने में सफल हों।
प्रदीप कुमार पांडेय,इंदौर
http://rajkaj.blogspot.com/ [Reply]

8:48 PM, February 21, 2009

ये वोह पहला कमेन्ट है जो इस ब्लॉग पर ही हिन्दी मैं बदला गया है [Reply]

Post a Comment

आप का एक एक शब्द हमारे लिए अमृत के समान है , हमारा प्रयास कैसा लगा ज़रूर बताएं