हिन्दी में लिखने के ऑफ़ लाइन टूल

Categories: , , ,

हिन्दी में लिखने वालों की एक बड़ी दिक्कत रही है हिन्दी में आफलाइन लिखने की , हर बार ब्लॉग पोस्ट करने के लिए इन्टरनेट से जुड़ना ज़रूरी हो जाता है , असीमित ब्रॉडबैंड कनेक्शन वालों के लिए तो ठीक है पर जो लोग असीमित इन्टरनेट का प्रयोग नही कर रहे हैं उनके लिए कुछ समस्या तो है ही। इसके आलावा समय-समय पर ब्लागर का गूगल की लिपि परिवर्तक-सेवा से संपर्क टूट जाना लय के बने रहने अड़चन पैदा करता है ।

इस समस्या का समाधान इन्टरनेट पर पहले से ही मौजूद है ऑफ़लाइन फॉण्ट कन्वर्जन टूल इस टूल की मदद से आप अपने कम्प्यूटर पर अपने फाँट में लिख कर और उसे यूनिकोड में बदल कर ब्लागर या अन्य साईट पर उपयोग कर सकते हैं ।

मेरी जानकारी के अनुसार इनमे से कुछ अनुनाद सिंह जी और कुछ नारायण प्रसाद जी ने बनाये और आम जन के उपयोग के लिए दिए हैं। अनुनाद सिंह जी हमारे नजदीक इंदौर से हैं , नारायण प्रसादजी ने बीटेक ऑनर्स किया है। इसके साथ ही जर्मन और रशियन भाषा में डिप्लोमा प्राप्त किया है। वे 10 भाषाओं का ज्ञान रखते हैं और संस्कृत और हिन्दी के व्याकरण को लेकर विगत कई वर्षों से शोध कार्य कर रहे हैं । हम उनका धन्यवाद करते हैं जो उन्होंने ये फाइल्स उपलब्ध करा कर कई लोगों की मुश्किल हल की है ।

ये सभी फाइल्स जावा स्क्रिप्ट में हैं और इनके काम करने के लिए आपके कम्प्यूटर में जावा स्क्रिप्ट चलने की क्षमता होनी चाहिए ।
इन्हे डाउनलोड करने के लिए आप निचे दी हुई लिंक्स पर right click कर save link as पर क्लिक कर डेस्कटॉप पर क्लिक कर सेव कर सकते हैं
  1. कृतिदेव से यूनिकोड डाउनलोड करें (right click कर save as करें )
  2. आगरा फॉण्ट से यूनिकोड डाउनलोड करें (right click कर save as करें )
  3. गाँधी फॉण्ट से यूनिकोड डाउनलोड करें (right click कर save as करें )
  4. युवराज फॉण्ट से यूनिकोड डाउनलोड करें (right click कर save as करें )
  5. चाणक्य से यूनिकोड डाउनलोड करें (right click कर save as करें )
  6. डीवि योगेश से यूनिकोड डाउनलोड करें (right click कर save as करें )
  7. शिवाजी से यूनिकोड डाउनलोड करें (right click कर save as करें )
  8. श्री-लिपि से यूनिकोड परिवर्तक डाउनलोड करें (right click कर save as करें )

इसके आलावा अगर आप किसी और फॉण्ट में काम करते हैं जो यहाँ नही तो आप
Scientific and Technical Hindi (वैज्ञानिक तथा तकनीकी हिन्दी) के गूगल ग्रुप पर जाकर कुछ और भी डाउनलोड कर सकते हैं
इस ग्रुप की फाइल्स यहाँ मिलेंगी

एक बार आप फाइल डाउनलोड कर लें उसपर डबल क्लिक कर इन्टरनेट एक्स्प्लोरर में खोल लें । ऊपर एक पिली पट्टी आ जायेगी उस पर right click कर allow blocked content पर क्लिक करें,

और अपना पुराने फॉण्ट में लिखा गया पाठ लिखें और उसे यूनिकोड में में कन्वर्ट करें ,

उम्मीद है ये आपके लिए मददगार साबित होगा


Photobucket

अपने ब्लॉग पर ये चित्र लगा कर हिन्दी में लिखने को प्रोत्साहित कर सकते हैं ,क्योंकि कई लीग सिर्फ़ इसलिए ब्लागिंग नही करते क्योंकि उन्हें यूनिकोड में लिखने का तरीका पसंद नही है


कोड ये हैं

<a href="http://sarparast.blogspot.com/2009/03/blog-post_29.html" target="_blank"><img style="width: 263px; height: 195px;" src="http://i629.photobucket.com/albums/uu17/mayurdubey2003/Picture1-1.png" alt="Photobucket" border="0" /></a>



कोई और सहायता यदि हम कर पाएं तो बताएं ,खुशी होगी

लेख पसंद आया हो तो इस ब्लॉग को टेक्नोराती पर पसंद करें
कुछ टिका टिपण्णी ज़रूर करें
ब्लॉग मित्र बन्ने के लिए यहाँ क्लिक करें





Spread The Love, Share Our Article

Related Posts

12 Response to हिन्दी में लिखने के ऑफ़ लाइन टूल

8:58 PM, March 29, 2009

आपका लेख निश्चित रूप से ज्ञानवर्द्धक हैं। श्री अनुनाद सिंह जी ने तो अनेक बार मदद की है इसलिये जानता हूं पर श्री नारायण प्रसाद जी के बारे में आपने जो बताया उसके लिये उनकी प्रशंसा करना चाहिये। उनके द्वारा बनाया गया टूल हिंदी के आफ लाईन टूलों में सर्वश्रेष्ठ है और मैं उसी से लिखता हूं। अंतर्जाल पर हिंदी को स्थापित करने में इस टूल की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी इसमें संदेह नहीं है।
दीपक भारतदीप [Reply]

9:17 PM, March 29, 2009

आपने तो मेरी सारी समस्या हल कर दी है बहुत सुन्दर हल बताया है आपने। अब मैं आराम से अपने लिखे को यूनीकोड में बदल पा रहा हूं। इसके लिये आपको बहुत-बहुत धन्यवाद इसी प्रकार नेट संबंधी समस्याओं का समाधान भविष्य में भी करते रहेंगें
नमस्ते [Reply]

9:26 PM, March 29, 2009

हां एक चीज आपसे और
पूछनी थी कि अगर मुझे वेबसाईट बनानी हो तो क्या करना होगा
और इसमें प्रति वर्ष कितना खर्च आता है? [Reply]

10:53 PM, March 29, 2009

यह सब तो बहुत समय से जानकारी में है। लेकिन कल रोमन से देवनागरी में ट्रांसलिटरेशन टूल तलाश कर रहा था तो गूगल से अच्छा कोई नजर नहीं आया। लेकिन उस मे हर शब्द के बाद स्पेस दबाना जरूरी है। यदि पहले से टाइप किया हुआ हो तो उसे देवनागरी में बदलने का साधन नहीं दिखाई दिया। वेब दुनिया का टूल है लेकिन वह इतना अच्छा नहीं। क्या कोई अच्छा टूल सुझाएँगे? [Reply]

11:03 PM, March 29, 2009

हिन्दी मैं लिखें ,नीचे दिए गए बॉक्स का प्रयोग करें
इस डब्बे को किधर से लाए भैया जी
वैसे मेरे वास्ते जे लेख उपयोगी बन पडा है [Reply]

11:25 PM, March 29, 2009

achchhi jankari di hai aapne ... bahut sunder. [Reply]

1:37 AM, March 30, 2009

बहुत बढिया जानकारी दी आपने.

रामराम [Reply]

8:56 AM, March 30, 2009

कम्प्यूटर पर हिन्दी में कुछ कर पाने की पहली सीढ़ी है - कम्प्यूटर पर हिन्दी पढ़ व लिख पाना। इस विषय पर बहुत चर्चा हुई है लेकिन हिन्दीप्रेमियों के अभी भी सुविधापूर्वक हिन्दी न लिख पाने को देखते हुए लगता है कि इस पर अभी भी कई वर्षों तक सतत चर्चा की जरूरत है।

मैं आपकी बात में थोड़ा संशोधन करना चाहूँगा। वह यह कि ऐसे भी (एक नहीं, बहुत से) आफलाइन टूल उपलब्ध हैं जिनसे आप सीधे यूनिकोड में हिन्दी लिख सकते हैं। यानि आपको पहले पुराने फाण्ट में लिखने और फिर उसे फाण्ट परिवर्तक से यूनिकोड में बदलने के दोहरे प्रक्रिया से गुजरने की वाध्यता नहीं है। हाँ, अगर आपको पुराने फाण्ट में ही टाइप करने में सुविधा होती है या आनन्द आता है तो यह अलग बात है।

आफलाइन औजारों की सूची के लिये यहाँ जाएं -
http://hi.wikipedia.org/wiki/%E0%A4%87%E0%A4%82%E0%A4%9F%E0%A4%B0%E0%A4%A8%E0%A5%87%E0%A4%9F_%E0%A4%AA%E0%A4%B0_%E0%A4%B9%E0%A4%BF%E0%A4%A8%E0%A5%8D%E0%A4%A6%E0%A5%80_%E0%A4%95%E0%A5%87_%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%A7%E0%A4%A8#Offline.2FDownloadable_Tools [Reply]

11:59 AM, March 30, 2009

बेहतर जानकारी । अनुनाद जी की बात ज्यादा गौर करने वाली है । युनिकोड में सीधे लिखना ज्यादा सुविधापूर्ण है मेरे लिये । धन्यवाद । [Reply]

12:16 PM, March 30, 2009

@ अनुनाद जी ,धन्यवाद आपकी जानकारी के लिए , मैंने ये टूल भी उपयोग किये हैं पर उतने आरामदेह नहीं हैं ,गूगल मैं टाइप करने की आदत के बाद बाकियों में समझने में थोडा समय लगता है
@ "मुकुल:प्रस्तोता:बावरे फकीरा " कमेन्ट बॉक्स के ऊपर ये ट्रांसलिटरेशन टूल आप यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं

@ अनुनाद जी ,धन्यवाद आपकी जानकारी के लिए , मैंने ये टूल भी उपयोग किये हैं पर उतने आरामदेह नहीं हैं ,गूगल मैं टाइप करने की आदत के बाद बाकियों में समझने में थोडा समय लगता है
@ "मुकुल:प्रस्तोता:बावरे फकीरा " कमेन्ट बॉक्स के ऊपर ये ट्रांसलिटरेशन टूल आप यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं


http://sarparast.blogspot.com/2009/03/blog-post_09 [Reply]

12:39 PM, March 30, 2009

बढिया जानकारी दी आपने आभार [Reply]

9:01 PM, April 09, 2009

achha laga.. [Reply]

Post a Comment

आप का एक एक शब्द हमारे लिए अमृत के समान है , हमारा प्रयास कैसा लगा ज़रूर बताएं