पोस्ट का पहला अक्षर बड़ा बनाएं

Categories: , ,

इस पोस्ट में आपने कुछ अलग नोटिस किया ,जी हाँ पहला अक्षर ,इस पोस्ट का पहला अक्षर बड़ा है , बहुतदिनों से अपने ब्लॉग की स्टाइल शीत पर कोई काम नही किया था, वडनेरकर जी के सफर में पोस्ट के शुरुआतहमेशा बड़े अक्षर से ही होती है , बचपन से अखबार की सम्पादकीय में भी ऐसा ही कुछ देखते रहे हैं सोचा क्यों अपने ब्लॉग पर लगाया जाए

Drop Caps - जी हाँ यही कहते हैं इसे , हम इसे बरसों से अपने वर्ड डाक्यूमेंट सुंदर बनने के लिए कर ही रहे हैं , और यदि आप वर्ड पर लिख सीधे किसी सॉफ्टवेर से प्रकाशित करते हों तो आप जानते ही होंगे


कैसे - इसको अपने ब्लॉग पर लगना कोई कठिन काम नही है , चूँकि हमारा ब्लॉग को css style sheet से हीसमझता है , तो हमें पहले ब्लॉग को ये बताना होगा, फ़िर वोह ख़ुद--ख़ुद सिर्फ़ एक बार में समझ लिया करेगा तो ज्यादा समय नही लेते हुए विधि पर आते हैं

Step 1 - अपने ब्लॉग के edit HTML सेक्शन में जायें .
Photobucket

Step 2 - यहाँ आपके कोड लिखे दिखेंगे यहाँ CTRL+F की सहायता से

]]</b:skin>

को ढूंढें

Step 3- ]]</b:skin> के ठीक ऊपर निचे दिया हुआ कोड पेस्ट कर दें
.post aad {
float:left; color:
headerBgColor;
font-size:100px;
line-height:80px;
padding-top:1px;
padding-right:5px; }

अब निचे दिए हुए सेव टेम्पलेट पर क्लिक करें - आपका काम हो चुका है

अपनी पोस्ट पर आकर पहले अक्षर को एडिट एच टी एम् एल पर आकर इस कोड में बंद कर लें <aad>अ</aad>


लगातार
उपयोग के लिए

सेटिंग में जा कर - फॉरमेटिंग पर क्लिक कर सबसे निचे पोस्ट टेम्पलेट में इस तरह से कोड पेस्ट कर दें और सेवकर लें इस से आपको ये कोड याद रखने में
दिक्कत नही होगी
http://www.blogger.com/blog-formatting.g?blogID=1003205703605241903

अब जब भी आप नई पोस्ट लिखेंगे तो आपको ये पहले से ही वहां मिलेगा , आपको सिर्फ़ बीच में जगह पर अपनीपोस्ट का पहला अक्षर लिखना है

ये पोस्ट कैसी लगी , ज़रूर बताइए

नए लेख ईमेल से पाएं
चिटठाजगत पर पसंद करें
टेक्नोराती पर पसंद करें
इस के मित्र ब्लॉग बनें

Spread The Love, Share Our Article

Related Posts

4 Response to पोस्ट का पहला अक्षर बड़ा बनाएं

4:51 PM, April 14, 2009

आप का प्रयास अच्छा है। लेकिन बात कुछ अधिक समझ में नहीं आई। कंट्रोल + एफ की सहायता से किसी टेक्स्ट को कैसे तलाश किया जाए अधिक समझ नहीं आया। फिर भी शिक्षण का प्रयास ऐसा है कि हम जैसे मूढमति की अक्ल में भी कुछ तो प्रवेश कर ही रहा है। कर के देखते हैं और फिर बताते हैं। [Reply]

5:00 PM, April 14, 2009

Hi Mayur

Thanx for visit and nice comment

Great blog here too!

All the best

Mina

http://alinhavarte.blogspot.com/ [Reply]

10:13 PM, April 14, 2009

बहुत बढिया ... करके देखती हूं। [Reply]

6:52 AM, April 15, 2009

Very Smart and innovative! [Reply]

Post a Comment

आप का एक एक शब्द हमारे लिए अमृत के समान है , हमारा प्रयास कैसा लगा ज़रूर बताएं